Our Success Stories & Achievements

Nasal Polyps

Nasal Polyps

12 साल से ज़ुकाम से झूंझ रही महिला को कानों में भी तकलीफ चालू हो गई और एक कान से पानी बहने लगा। अमृतधारा, माय अस्पताल में डॉ दीप्ति सिंह को दिखाने के बाद पता चला की तकलीफ नाक के मस्सों की वजह से है।
सफलता पूर्वक ऑपरेशन किये जाने के बाद सुनिए उनसे उनके अनुभव के बारे में

Best Facilities in Karnal

Best Facilities in Karnal

Listen to what this lovely family has to say about the hospital


Highly Diabetic Patient gets Treated

Highly Diabetic Patient gets Treated

Mr. Gurdeep Singh’s sugar levels were at 550 when he first came to the hospital. Today he is at home with controlled sugar levels after successful treatment.

Don’t Be afraid of Bariatric surgery

Don’t Be afraid of Bariatric surgery

कुरुक्षेत्र से श्रीमती प्रेमलता जी अपने वज़न से परेशान थीं। उनका वज़न 166 किलो था, इस वजह से उन्होंने डॉ नितिन से मिल कर वज़न कम करने वाला ऑपरेशन करवाया।
जानिए इस ऑपरेशन के बारे में उन्ही की ज़बानी


Intestinal Contraction Testimonial

Intestinal Contraction Testimonial

अमृतधारा, माय अस्पताल के डॉक्टर आपके बच्चे की अहमियत को बखूबी समझते हैं। यहाँ के डॉक्टर मुश्किल से मुश्किल स्थिति को भी ठीक करने में सक्षम हैं।नवजात बच्ची जिस का वज़न 2 Kg था, बच्चों की सर्जरी के विशेषज्ञ ने सर्जरी कर इस बच्ची की जान बचाई। जानिए खुद उस परिवार से जिनकी बच्ची अब पूर्णतः स्वस्थ है

Tendon Inflammation

Tendon Inflammation

कभी कभी मांसपेशियों का दर्द परेशानी का कारण बन जाता है और उसका प्रभाव हमारी रोज़ की दिनचर्या पर पड़ने लगता है। ऐसे में उसका सही इलाज कराना बेहद ज़रूरी हो जाता है।
आईये जानें इस बारे में उन महिला से जिनका इलाज़ डॉ Harshita Yadav ने किआ


Don’t ignore your injuries

Don’t ignore your injuries

मरीज़ को करीब एक साल पहले घुटने में चोट लगी थी जो लगातार दर्द दे रही थी। उन्होंने इसका इलाज इस उम्मीद पर नहीं कराया की वह अपने आप ठीक हो जायेगा। एक दिन अचानक उस चोट के पास की मांसपेशियां फट गईं। उन्हें अमृतधारा, माय अस्पताल लाया गया जहाँ डॉ. राधा रमन (Dr. Radha Raman) ने अार्थ्रोस्कोपी कर उनका सफलता पूर्वक इलाज किया। अब वे पूर्णतः स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके हैं।

हमारी सभी से यही गुज़ारिश है कि किसी भी चोट को नज़रंदाज़ न करें। चोट का सही समय पर इलाज़ कराएं और परेशानी से बचें।

Knee Replacement Experience

Knee Replacement Experience

बढ़ती उम्र के साथ हड्डियाँ कमज़ोर होती जाती हैं। कई बार बुज़ुर्गों को जोड़ बदलने की प्रक्रिया की आवश्यकता होती है ताकि वे अच्छे से चल सकें। जानिए इस प्रक्रिया के बारे में उन महिला से जिन्होंने इस प्रक्रिया की बदौलत ज़िन्दगी में खोयी गति वापस पायी


Bariatric – The Complete Experience

Bariatric – The Complete Experience

बैरिएट्रिक सर्जरी यानि की वज़न घटने वाली सर्जरी मोटापा काम करने के साथ साथ और बीमारियाँ भी दूर करती है।
ऑपरेशन के बाद ज़िन्दगी में क्या बदलाव आता है – आईये जानें ऑपरेशन करा चुके सज्जन से

301 Gallbladder Stones ( Laparoscopic Cholecystectomy )

301 Gallbladder Stones ( Laparoscopic Cholecystectomy )

शांति देवी (नाम बदला हुआ ) को पेट में दर्द था। अल्ट्रासॉउन्ड की जांच से पता चला की उनकी पित्त की थैली में पथरियाँ थी।

उनका ऑपरेशन किआ गया और उनकी पित्त की थैली में 301 पथरियाँ निकली। अब वे स्वस्थ होकर अपने घर जा चुकी हैं। हम यही कामना करते हैं की उनका जीवन सुखी और स्वस्थ हो।


The life after Bariatric surgery

The life after Bariatric surgery

राम सिंह (नाम बदला हुआ ) अपन स्वास्थ को लेकर बहुत परेशान रहते थे और उनका किसी से बात करने को मन नहीं करता था। उनका वजन 160 kg था। ज़्यादा वजन के कारण घुटने व कमर में असहनीय दर्द रहता था और बिलकुल चला नहीं जाता था।
बरिएट्रिक सर्जरी बाद वजन 97 kg रह गया है। घुटने व कमर का दर्द भी ख़तम हो गया है। अब वे तन व मन से सम्पूर्णतः स्वस्थ हैं।
हम उम्मीद करते हैं कि उनका जीवन सुखी और स्वस्थ हो।

The IVF Story

The IVF Story

45 वर्षीय अनीता (नाम बदला हुआ) की बच्चेदानी में बहुत बड़ी रसोली थी, जिसकी वजह से वे माँ नहीं बन पा रही थीं।
वे अमृतधारा, माय अस्पताल में आईं जहाँ पहले उनकी रसोली निकली गयी और फिर IVF के द्वारा सफलता पूर्वक उन्होंने एक प्यारी बच्ची को जन्म दिआ।


Fight Diabetes

Fight Diabetes

डायबिटीज या मधुमेह एक ऐसी बीमारी है जो विश्व में तेजी से फ़ैल रही है। इस बीमारी में इंसान काफी परेशान रहता है पर इसका सही इलाज़ करवाने से तकलीफ ख़तम हो सकती है और शुगर को कंट्रोल करा जा सकता है।
आईये जानें इस बारे में एक महिला से जो 20 साल से डायबिटीज को कंट्रोल कर रही हैं।

Femur Bone Fracture

Femur Bone Fracture

जब 72 वर्षीय रीटा कुमार की गिरने के कारण हड्डी टूट गई तब अमृतधारा, माय अस्पताल में उन्होंने डॉ राधा रमन से इलाज करवाया। उनकी स्थिति काफी गंभीर थी और काफी बड़ा ऑपरेशन किआ गया। 2 महीने बाद उन्होंने सहारे के साथ चलना शुरू किया। अब 5 महीने बाद उनकी हड्डी पूरी तरह जुड़ चुकी है और वे बिना सहारे चल पा रही हैं।
हम उनके स्वस्थ और खुशहाल जीवन की कामना करते हैं।


Mr. Lovneet’s Experience about Bariatric (Weight Loss) Surgery

Mr. Lovneet’s Experience about Bariatric (Weight Loss) Surgery

लवनीत, जिन्होंने 40 दिन पहले वज़न घटाने वाली सर्जरी करवाई थी, आज अपना अनुभव आप सबके साथ बाँटना चाहते है।

सर्जरी से पहले उनका वज़न 157 किलो था, जो केवल 40 दिनों में घट कर अब 139 किलो हो गया है। इसके अलावा उनकी शुगर व बीपी भी कंट्रोल में है। हम उनकी अच्छी सेहत और सेहतमंद ज़िन्दगी की कामना करते है

Rashmi Got Her IVF Treatment

Rashmi Got Her IVF Treatment

सितंबर के माह में कनाडा से आईं रश्मि अमृतधारा हॉस्पिटल से टेस्ट ट्यूब बेबी करवा कर गयी, ने हाल ही में इस प्यारी बिटिया को जन्म दिया।


5 Patients Treated

5 Patients Treated

जून के महीने में किए गए IVF में से आज पहले 5 मरीजों के result आए, और पांचों ही Positive. इस ख़ुशी को मनाते हुए हमारी अमृतधारा हॉस्पिटल की IVF टीम

Due to IVF, Rakhi’s dream completed

Due to IVF, Rakhi’s dream completed

IVF की बदौलत, राखी का सपना पूरा हुआ। इस प्यारी बेटी की गोद में लेकर उन्हें अस्पताल से छुट्टी दी गयी


Pancreatic Pseudocyst Treatment

Pancreatic Pseudocyst Treatment

A 35 year old male presented to us with gastric outlet obstruction, fever and recurrent discharge, and was diagnosed with pancreatic pseudocyst. We performed a laparoscopic cystogastrostomy, a first of its kind in Karnal. The patient recovered well and was discharged from the hospital after 3 days.

First Bariatric (Weight Loss) Surgery

First Bariatric (Weight Loss) Surgery

Mr. Sandeep Singh was discharged today after undergoing the first bariatric (weight loss) surgery at AMRITDHARA, my Hospital by Dr. Nitin Bansal and anaesthetists Dr. Tarun Singla and Dr. Dimple Singla. His surgery should take care of his diabetes, high blood pressure and joint problems.


Successful Birth To A Baby Boy

Successful Birth To A Baby Boy

Mrs. Alka, who gave birth to a baby girl 3 years ago at Hospital Amritdhara, was discharged after giving birth to a baby boy.

Our Contact

Get In Touch

Office Address

AMRITDHARA, my Hospital
ITI Chowk, Karnal - 132001
Haryana, India

Phone Number

Front Desk: +91 184-4098100, 7419200010
Emergency: +91 184-4098100
Fax: +91 184-⁠⁠⁠2200013

Email Address

hello@hospitalamritdhara.com

Get In Touch